RGCIRC news
RGCIRC news update 30-oct-2020

Rajiv Gandhi Cancer Hospital तथा Research Centre के सीनियर कंसल्टेंट और चीफ ऑफ़ न्यूरो एंड स्पाइन सर्जरी डॉ इश्वर चंद प्रेमसागर ने कहा की ज्यादातर गंभीर बिमारी वाले लोगो में सर दर्द का लक्षण पाया जाता है. हालांकि यह समस्या मानसिक तनाव से भी हो सकता है अथवा किसी मेडिकल समस्या जैसे अवसाद, माइग्रेन, आँखों की दिक्कत या हाई ब्लड प्रेशर से भी हो सकता है.

सिरदर्द की समस्या के मुख्य कारण

लेकिन नियमित रूप से होने वाला सिरदर्द ब्रेन ट्यूमर जैसी गंभीर बीमारी का लक्षण भी हो सकता है. ज्यादातर लोग जिन्हें सिरदर्द की समस्या होती है उनका सर दोपहर से शुरू होता है तथा देर शाम तक रहता है. इस तरह के सिरदर्द में सर के चारो तरफ पट्टी बंधी हो इस तरह से महसूस होता है. इस तरह का सिरदर्द तनाव के वजह से होता है.

माइग्रेन के समय होने वाला दर्द आधे सर में होता है तथा उस तरफ की आँख में भी दर्द होता है. इस समय होने वाले सिरदर्द से जी भी मिचलाता है ऐसे स्तिथि में अँधेरे में रहने से राहत मिलती है.

डॉ इश्वर चंद प्रेमसागर ने बाताया की अगर किसी व्यक्ति को सुबह के समय तेज सिरदर्द होता है तथा उल्टी होने लगती है तो यह ब्रेन ट्यूमर जैसी गंभीर बिमारी का लक्षण हो सकता है. ब्रेन ट्यूमर से पीड़ित लोगो को देखने में परेशानी हो सकती है. तथा चलते समय चक्कर आने की समस्या हो सकती है. हाथ पैर मर कमजोरी होना समय समय पर दौरा पड़ना इस बिमारी के मुख्य लक्षण हो सकते हैं. इस बीमारी के लक्षण को कम उम्र क्र बच्चो में लोग समय रहते पहचान नहीं पाते हैं.

इन लक्षणों के सामने आते ही डॉक्टर की सलाह अवश्य लें

सिरदर्द की समस्या को अनदेखा न करें यदि आपको नियमित रूप से सिरदर्द हो रहा है तथा उल्टी आने तथा चक्कर आने की समस्या हो रही है तो आपको तुरंत ही डॉक्टर की सलाह आवश्य लेनी चाहिये. इस समय आपको डॉक्टर सर का सिटी स्केन या MRI कराने के लिए कह सकते हैं ताकि सिरदर्द के सही कारण का पता चल सके.

source

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *